प्यारे स्टूडेंट्स, आज मैं Karun Ras Ki Paribhasha Udaharan Sahit Likhiye को बताने वाला हु. आप ही लोगो का डिमांड था की मैं आप सभी को करुण रस की परिभाषा शॉर्ट में बताऊ और इसका उदहारण भी.

मैं आप सभी को जो Karun Ras Ki Example बताने वाला हु वह आप सभी को कही नहीं मिलेगा. मैंने खुद अपने बोर्ड एग्जाम के समय यही उदाहरण और परिभाषा याद किया था.

Karun Ras Ki Paribhasha Udaharan Sahit Likhiye
करुण रस की परिभाषा एवं उदाहरण लिखिए 

यूपी बोर्ड एग्जाम में इसका प्रश्न कुछ इसप्रकार से पूछा जाता है - हास्य अथवा करुण रस की परिभाषा एवं उदाहरण लिखिए.  आप हास्य या करुण दोनों में से किसी एक का ही लिखेंगे. आज सिर्फ मैं आप सभी को करुण रस की परिभाषा एवं उदाहरण बताइए का जवाब देने वाला हू.

मैंने हास्य रस के बारे में आप सभी को बता दिया है. यदि आप हास्य रस की परिभाषा और उदाहरण पढना कहते है तो आप पढ़ सकते है या फिर आप हमारे इस ब्लॉग के मुख्य पेज पर जाकर उसके बारे में पढ़ सकते  है.

चलिए अब हम सभी Karun Ras Ki Paribhasha Udaharan Sahit जान लेते है. मैं आपको आगे और भी बहुत सारे काम की जानकारी बताने वाला हु.

सबसे सरल शब्दों में 'करुण रस की परिभाषा एवं उदाहरण लिखिए' - Karun Ras Ki Paribhasha Udaharan Sahit Likhiye 

मेरे प्यारे स्टूडेंट्स, आप सभी लोग लम्बे - लम्बे और कठीन परिभाषा से अगर परेसान है तो NCERT eNotes आपके इसी समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करेगा. क्योंकि हम यहाँ पर हर एक छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी चीज को और भी सरल शब्दों में करके आपके सामने प्रस्तुत करते  है.

चलिए अब हम Karun Ras Ki Paribhasha Short Mein जान लेते है. यह आपके बोर्ड एग्जाम कम से कम दो अंक में आना तय है. यदि आप इसे याद कर लेते है तो आपका दो अंक अभी से कन्फर्म है.

आपमें से कुछ लोग Karun Ras Ka Sthayi Bhav Kya Hai यह पूछ रहे थे तो मैंने उसका भी उत्तर आगे दिया है. 

करुण रस की परिभाषा (Karun Ras Ki Easy Definition): करुण रस का स्थायी भाव शोक है. यही शोक नामक जब स्थायी भाव, जब विभाव, अनुभाव और संचारी भावो से संयोग करता है तब करुण रस की निष्पत्ति होती है.

करुण रस की उदहारण (Karun Ras Ki Easy Example): करुण रस का उदहारण निचे दी गयी है -
मणि खोये भुजंग सी-जननी, फन सा पटक रही थी शीश |
अंधी आज बनाकर मुझको, किया न्याय तुमने जगदीश ||  

स्पष्टीकरण: श्रवण कुमार की मृत्यु पर उनके माता के विलाप का यह उदाहरण करुण रस का उत्कृष्ट उदहारण है.
  1. स्थायी भाव: शोक
  2. अनुभाव: सिर पटकना, प्रलाप करना आदि.
  3. संचारी भाव: स्मृति, विषाद आदि.
दोस्तों यदि आपको रासायन विज्ञान और भौतिक विज्ञान का पिछले सालो का पेपर का हल चाहिए तो आप हमसे सम्पर्क कर सकते है. आपको मात्र 50 रुपये में मैं आपको 7 + 7 = 14 सेट्स का सॉल्यूशन दूंगा.

आशा है स्टूडेंट्स आप सभी को "Karun Ras Ki Paribhasha Udaharan Sahit" मिल गयी है. आप लोग इसे एक दम से कंठस्थ कर लीजिये क्योंकि यह इस वर्ष बोर्ड एग्जाम में आएगा ही आएगा. आप इस बात का गाठ बाँध ले.

अब कभी भी आपके सामने अगर करुण रस की परिभाषा एवं उदाहरण लिखिए कहा जाए तो आप इसे लिख दीजियेगा. आपको दो अंक आसानी से मिल जायेंगे.